Log In

 
Company : Business Wire 
Tuesday, June 10, 2014 5:05PM IST (11:35AM GMT)
 
एमएसडी अमेरिकन डायबिटीज एसोसिएशन के 74वें वैज्ञानिक सत्र में टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों से संबंधित नए क्लिनिकल डाटा प्रस्तुत करेगा जो सिटैगलिपटिन, जांच करने वाले ओमैरिगलिपटिन और वास्तविक विश्व से जुड़े होंगे
N.J., Whitehouse Station, United States

व्हाइट हाउस स्टेशन, एनजे. – (बिजनेसवायर) --  10 जून 2014 

अमेरिका और कनाडा में मर्क (एनवाईएसई : एमआरके) के नाम से ज्ञात एमएसडी अमेरिकन डायबिटीज एसोसिएशन (एडीए) के 74वें वैज्ञानिक सत्र में अपने 13 नए अध्ययन और विश्लेषण प्रस्तुत करेगा। इनमें इसके डीपीपी-4 इनहीबिटर जनुविया (सिटैगलिपटिन) और जांच करने वाले सप्ताह में एक बार के डीपीपी-4 इनहीबिटर ओमैरिगलिपिटिन से संबंधित आंकड़े भी होंगे। एडीए का यह सत्र सैन फ्रांसिस्को में 13-17 जून 2014 के दौरान होगा।  

इस दौरान वास्तविक विश्व की सेटिंग में मरीजों से संबंधित और भी कई विश्लेषण प्रस्तुत किए जाएंगे।

मर्क रिसर्च लेबोर्ट्रीज में डायबिटीज और एंडोक्रिनोलॉजी के लिए चिकित्सीय अनुसंधान के वाइस प्रेसिडेंट पीटर स्टेइन ने कहा, “डायबिटीज की देखभाल के क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अग्रणी होने की अपनी प्रतिबद्धता के भाग के रूप में मर्क डायबिटीज के मरीजों की सहायता और डायबिटीज के प्रबंध के तरीके को बदलने के लिए समर्पित हैं। हम अपने डायबिटीज पोर्टफोलियो पाइपलाइन में उपलब्ध नए आंकड़े साझा करते हुए खुशी महसूस कर रहे हैं।”

 प्रस्तुत किए जाने वाले प्रमुख अंशों में शामिल हैं :

लेट ब्रेकिंग  
टाइप 2 डायबिटीज में डुअल थेरेपी की ट्रीटमेंट मेनटेंस अवधि मेटफॉर्मिन और सिटैगलिप्टिन के साथ – दि ओडिसी ऑबजर्वेशनल स्टडी रविवार, 15 जून, 12:00-2:00 दोपहर बाद पीडीटी
136-एलबी
   
डायबिटीज के मरीजों में खाने वाले एंटीहाइपरग्लाइसेमिक एजेंट को बंद करना रविवार, 15 जून, 12:00-2:00 दोपहर बाद पीडीटी
160-एलबी
   
सिटैगलिप्टिन या सल्फोनीलुरिया और मेटफॉर्मिन डुअल थेरापी से उपचार किए जाने वाले टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों में इंसुलिन के उपयोग का समय आंकना   रविवार, 15 जून, 12:00-2:00 दोपहर बादपीडीटी
169-एलबी
 
 
चिकित्सीय अनुसंधान
 
चिकित्सीय थेराप्यूटिक्स /नई तकनालाजीओरल एजेंट्स  
टाइप 2 डाइबिटीज के मरीजों में नॉकटर्नल हाईपोग्लाइसेमिया की रिपोर्टेड शैली जिनका उपचार सघनता से इनसुलिन ग्लारजिन से किया गया है सिटैगलिपिटन के साथ या उसके बिना। गाइडेड ऑडियो पोस्टर दौरा
शनिवार, 14 जून  12:30-1:20 दोपहर बाद पीडीटी
सामान्य पोस्टर सत्र रविवार, 15 जून  12:00-2:00 दोपहर बाद पीडीटी
1027-पी
 
सिटैगलिपिटन देना शुरू करने से ग्लाइसेमिक नियंत्रण बेहतर हुआ और टाइप 2 डायबिटीज के जापानी मरीजों ने इसे अच्छी तरह बर्दाश्त किया जो ग्लाईनाईड्स मोनोथेरापी पर थे। रविवार, 15 जून 12:00-2:00 पीएम पीडीटी
1039-पी
   
मनुष्यों में सप्ताह में एक बार डीपीपी-4 इनहीबिटर का एब्जॉर्ब्शन, मेटाबोलिज्म और ओमैरिगलिपटिन रविवार, 15 जून 12:00-2:00 पीएम पीडीटी
1080-पी
 
सिटैगलिपिटन देना शुरू करने से ग्लाइसेमिक नियंत्रण बेहतर हुआ और टाइप 2 डायबिटीज के जापानी मरीजों ने इसे अच्छी तरह बर्दाश्त किया जो ग्लाईनाईड्स मोनोथेरापी पर थे। रविवार, 15 जून 12:00-2:00 पीएम पीडीटी
1039-पी
   
मनुष्यों में सप्ताह में एक बार डीपीपी-4 इनहीबिटर का एब्जॉर्ब्शन, मेटाबोलिज्म और ओमैरिगलिपटिन रविवार, 15 जून 12:00-2:00 पीएम पीडीटी
1080-पी
 
टाइप 2 डायबिटीज और गुर्दे की क्रोनिक बीमारी के साथ सिटैगलिपटिन के उपयोग की विशेषता रविवार, 15 जून  12:00-2:00 Pपीएम . पीडीटी 1431-पी
   
थेराप्यूटिक्स /न्यू टेक्नालॉजीओरल एनर्जी  
टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों में यूरिनैरी एल्बुमिन सीकरेशन (टी2डीएम) एल्बुमिना के साथ उपचार सिटैगलिपटिन के साथ किया जाता है जो मेटफॉर्मिन के लिए ऐड्स ऑन थेरापी के रूप में है  : जो वास्तविक विश्व के आंकड़े का अध्य़यन है।      रविवार, 15 जून  12:00-2:00 Pपीएम . पीडीटी 1061-पी
 
हेल्थकेयर डिलीवरी /अर्थशास्त्र  
टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों में उपचार के दिशानिर्देशों का अनुपालन जिनका उपचार मेटफॉर्मिन मोनोथेरापी से इजराइली प्रबंध वाले देखभाल में सबऑप्टिमल ग्लाइसेमिक नियंत्रण में का गया है। रविवार, 15 जून  12:00-2:00 Pपीएम . पीडीटी 1168 -पी

जनुविया® (सिटैगलिपटिन) के बारे में

जनुविआ™ को आहार और व्यायाम के लिए सहायक बताया गया है जो टाइप 2 डायबिटिज मेलीटस के  मरीजों में शुरुआती थेरापी के रूप में ग्लाइसेमिक नियंत्रण को बेहतर करता है – अकेले या फिर मेटफॉर्मिन या पीपैरी अगोनिस्ट या मेटफॉर्मिन के ऐडऑन के रूप में साथ मिलाकर। पीपैरी एगोनिस्ट, सलफोनीलुरिया, सलफोनीलुरिया + मेटफॉर्मिन या पीपैरे अगोनिस्ट + मेटफॉर्मिन जब चालू रेजीमेन आहार और व्यायाम के साथ पर्याप्त ग्लाईसेमिक नियंत्रण नहीं मुहैया कराता है। जनुविआ का उपयोग आहार और व्यायाम के एक सहायक के रूप में किया जा सकता है ताकि ग्लाइसेमिक नियंत्रण को इंसुलिन के साथ मिलकर बेहतर कर सके (मेटफॉर्मिन के साथ या उसके बिना)।

सिटैगलिपटिन के बारे में महत्त्वपूर्ण चुनिन्दा सुरक्षा सूचनाएं

जो मरीज इस उत्पाद के किसी भी घटक के प्रति अति संवेदनशील होते हैं उन्हें जनुविआ कांट्रा इंडीकेट किया जाता है। टाइप 1 डायबिटीज के मरीजों या डायबिटिक किटोएसिडोसिस के उपचार में इसका उपयोग नहीं किया जाना चाहिए। 

जनुविआ लेने वाले मरीजों में मार्केटिंग के बाद की रिपोर्ट में गंभीर पैनक्रिएटाइटिस की बात कही गई है। इनमें घातक और गैर घातक हेमोरैजिक या नेक्रोटाइजिंग पैनक्रिएटाइटिस शामिल है। इस तरह की रपट आमतौर पर कितने लोगों से मिली जानकारी के आधार पर बनाई जाती है इसका ठीक पता नहीं होता है। इसलिए अमूमन इनकी आवर्तता या दवा के कितने समय के बाद ऐसा हुआ – जैसे अनुमान लगाना संभव नहीं होता है। ऐसे में मरीजों को पैनक्रिएटाइटिस के विशेष लक्षणों, पेट में लगातार, गंभीर दर्द की जानकारी दी जानी चाहिए। देखा गया है कि जनुविआ का सेवन बंद करने के बाद पैनक्रिएटाइटिस की समस्या दूर हो जाती है। अगर मरीज को पैनक्रिएटाइटिस का शक हो तो जनुविआ और अन्य संभावित संदिग्ध औषधि उत्पादों  का सेवन बंद कर दिया जाना चाहिए। जिन मरीजों का गुर्दा खराब हो उनके लिए दवा की खुराक में एडजस्टमेंट की सिफारिश की जाती है। गुर्जे की बीमारी गंभीर या अगर अंतिम चरण में हो तो हिमो डायलिसिस या पेरीटोनियल डायलिसिस की आवश्यकता होती है। 

अन्य एंटी हाइपर ग्लाइसेमिक एजेंट की तरह जनुविआ का उपयोग जब सलफोनीलुरिया या इंसुलिन के साथ तालमेल में लिया जाता है जिन दवाइयों के बारे में जाना जाता है कि, हाइपोग्लाइसेमिया का कारण बनते हैं तो सलफोनीलुरिया या इंसुलिन प्रेरित हाइपोग्लाइसेमिया के मामले प्लेसबो के मुकाबले बढ़ गए थे। सलफोनीलुरिया इंसुलिन प्रेरित हाइपोग्लाइसेमिया का जोखिम कम करने के लिए सलफोनीलुरिया या इंसुलिन की निम्न खुराक के बारे में विचार किया जा सकता है।

जनुविआ का सेवन करने वाले मरीजों में हाइपर संवेदनशलीता वाली प्रतिक्रिया की पोस्ट मार्केटिंग रिपोर्ट रही है। इनमें एनैफिलैक्सिस, एंजियोडीमा और एक्सफोलिएटिव स्किन कंडीशन जिसमें स्टीवेन्स जॉनसन सिनड्रोम भी शामिल है। इस तरह की रपट आमतौर पर कितने लोगों से मिली जानकारी के आधार पर बनाई जाती है इसका ठीक पता नहीं होता है। इसलिए अमूमन इनकी आवर्तता या दवा के कितने समय के बाद ऐसा हुआ – जैसे अनुमान लगाना संभव नहीं होता है। इन प्रतिक्रियाओं की शुरुआत आमतौर पर दवा शुरू करने के बाद पहले तीन महीने के अंदर हुई। कुछ मामलों में ऐसा पहली खुराक के बाद ही हुआ। अगर हाइपर सेनसिटिविटी प्रतिक्रिया की आशंका हो जनुविआ लेना बंद कर दिया जाना चाहिए, संभावित कारणों का आकलन किया जाना चाहिए और डायबिटीज का वैकल्पिक उपचार शुरू किया जाना चाहिए।   

मोनोथेरापी जैसे चिकित्सीय अध्ययन में और अन्य एजेंट के साथ तालमेल में प्रतिकूल अनुभव की जो रिपोर्ट हैं उसका संबंध ≥5%  मरीजों में कैजुअल्टी आकलन से नहीं है और प्लेसबो या सक्रिय तुलनात्मक के मुकाबले ज्यादा आम है। इनमें हाइपोग्लाइसेमिया, नैसोफैरिनजाइटिस, अपर रेसपायरेट्री ट्रैक्ट संक्रमण, सिरदर्द और पेरीफेरल ईडेमा शामिल है।

प्रतिकूल अनुभव से संबंधित सूचना के लिए कृपया उत्पाद सर्कुलर देखें।

चिकित्सीय अध्ययनों में जनुविया से मिलने वाली सुरक्षा और प्रभाव बुजुर्गों  (≥65 साल) के मामले में उन मरीजों से तुलनीय है जो <65 साल से ज्यादा के मरीजों में होता है। आयु के आधार पर दवा की खुराक में किसी एडजस्टमेंट की आवश्यकता नहीं है। बुजुर्ग मरीजों में अगर गुरदे की कार्यकुशलता कम है खुराक एडजस्ट करने की आवश्यकता हो सकती है।
थेरापी शुरू करने से पहले , कृपया प्रेसक्राइबिंग से संबंधित तमाम सूचनाएं देख लें।

एमएसडी के बारे में

एमएसडी आज हेल्थकेयर के क्षेत्र में दुनिया भर में अग्रणी है और दुनिया के स्वस्थ रहने के लिए काम कर रहा है। एमएसडी मर्क एंड कंपनी, इंक का ट्रेडमार्क है और इसका मुख्यालय व्हाइट हाउस स्टेशन, एनजे, अमेरिका में है। डॉक्टर की पर्ची वाली अपनी दवाइयों, वैक्सीन, बायोलॉजिक थेरापी और कंज्यूमर केयर तथा पशुओं के स्वास्थ्य से संबंधित उत्पादों के जरिए हम ग्राहकों के साथ काम करते हैं और 140 से ज्यादा देशों में काम करते हैं तथा अभिनव स्वास्थ्य समाधान मुहैया कराते हैं। हम दूरगामी नीतियों, कार्यक्रमों और साझेदारी के जरिए हेल्थकेयर के प्रति अपनी बढ़ती प्रतिबद्धता का प्रदर्शन करते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए www.msd.com पर आइए।

भविष्य उन्मुख बयान

इस समाचार विज्ञप्ति में 1995 के यूनाइटेड स्टेटेस प्राइवेट सिक्यूरिटीज लिटिगेशन रीफॉर्म ऐक्ट के सेफ हार्बर प्रावधानों के मायने के तहत “भविष्य उन्मुख बयान” हैं जो एमएसडी प्रबंधन की मौजूदा मान्यताओं और अपेक्षाओं पर आधारित हैं तथा अच्छे खासे जोखिम व अनिश्चितताओं से जुड़े हुए हैं। जो उत्पाद आने वाले हैं उनके बारे में कोई गारंटी नहीं हो सकती है कि उन्हें आवश्यक नियामक मंजूरी मिल जाएगी या वे व्यावसायिक तौर पर सफल साबित होंगे। अगर संबंधित मान्यताएं गलत साबित हुईं या जोखिम और अनिश्चतताओं का असर हुआ तो वास्तविक परिणाम इस भविष्य उन्मुख बयान में अपेक्षित परिणाम से काफी अलग हो सकता है।
 
इन जोखिमों और अनिश्चितताओं में उद्योग से जुड़ी भिन्न स्थितियां और प्रतिस्पर्धा, सामान्य आर्थिक कारण जिसमें उद्योग दर और मुद्रा विनिमय दर में उतार-चढ़ाव शामिल है, अमेरिका में और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर फार्मास्यूटिकल उद्योग से संबंधित नियमों और हेल्थ केयर से संबंधित कानून तथा प्रौद्योगिकीय प्रगति का प्रभाव, हेल्थकेयर के खर्चों पर नियंत्रण की अंतरराष्ट्रीय प्रवृत्ति,  नए उत्पाद और प्रतिस्पर्धियों द्वारा हासिल पेटेंट, नए उत्पाद के विकास से संबंधित चुनौतियों और इसमें नियामक मंजूरी हासिल करना शामिल है, इसमें भविष्य के बाजार की स्थिति का अनुमान लगाने की एमएसडी की य़ोग्यता, निर्माण की मुश्किलें और देरी, अंतरराष्ट्रीय अर्थव्यवस्था में चल रही वित्तीय अस्थिरता और संप्रभु जोखिम, अभिनव उत्पादों के लिए मर्क के पेटेंट और अन्य सुरक्षा के प्रभावी होने पर निर्भरता और मुकदमे तथा / या नियामक कार्रवाई की आशंका आदि शामिल हैं।       
 
एमएसडी किसी भी भविष्य उन्मुख बयान को सार्वजनिक तौर पर अपडेट करने की कोई जिम्मेदारी नहीं लेती ऐसा चाहे किसी नई सूचना, भविष्य की घटना या किसी अन्य कारण से जरूरी हो। अन्य कारण जो भविष्य उन्मुख बयाण में वर्णित परिणाम को काफी अलग कर सकते हैं का वर्णन एसईसी में दाखिल कंपनी की घोषणाओं में हैं। इनमें फार्म 10-के में एमएसडी मर्क की 2013 की जो वार्षिक रिपोर्ट में शामिल जो विवरण दाखिल किए हैं। इसके अलावा और भी विवरण सिक्यूरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन (एसईसी) के जरिए किए दाखिल किए जाते हैं, एसईसी के साइट (www.sec.gov) पर उपलब्ध हैं।

जनुविया ® एमएसडी का एक पंजीकृत ट्रेडमार्क है जो मर्क एंड कंपनी इंक की सहायिका है।

संपर्क :
एमएसडी
मीडिया :
माइकल क्लोज, +1-267-305-1211
पैम ईसेले, +1-908-423-5042
निवेशक :
कैरॉल फर्गुसन, +1-908-423-4465 

 
For News Release background on Business Wire click here
 
 
 
Submit your press release
More News from Business Wire

09/08/2018 7:37PM

Corporate Social Responsibility Related News Releases and Story Ideas for Reporters, Bloggers and Media Outlets

Following are the latest Corporate Social Responsibility news releases and story ideas available from Business Wire. These recaps, curated by Business Wire, provide reporters and bloggers around the globe instant access ...

26/07/2018 6:07PM

Corporate Social Responsibility Related News Releases and Story Ideas for Reporters, Bloggers and Media Outlets

Following are the latest Corporate Social Responsibility news releases and story ideas available from Business Wire. These recaps, curated by Business Wire, provide reporters and bloggers around the globe instant access ...

12/07/2018 5:30PM

Corporate Social Responsibility Related News Releases and Story Ideas for Reporters, Bloggers and Media Outlets

Following are the latest Corporate Social Responsibility news releases and story ideas available from Business Wire. These recaps, curated by Business Wire, provide reporters and bloggers around the globe instant access ...

Similar News

14/08/2018 2:15PM Image

First University Based Tabletop Accelerator in the Country Becomes Functional at Manipal Academy of Higher Education, Manipal

An indigenously designed and fabricated Tabletop Accelerator (TTA) delivered the first beam on target today at the Manipal Centre for Natural Sciences, Manipal Academy of Higher Education, Manipal. Designed by IUAC, New ...

No Image

13/08/2018 7:00PM

New Study Investigates the Utility of Home Monitoring Using Masimo SET® Pulse Oximetry to Screen Children with Down Syndrome for Risk of Obstructive Sleep Apnea Prior to Diagnostic Multichannel Sleep Studies

Masimo (NASDAQ: MASI) announced today the findings of a recently published study in which researchers investigated whether home pulse oximetry monitoring might be a useful initial screening method of determining ...