Log In

 

Company Name : Earth Networks

Friday, February 9, 2018 3:28PM IST (9:58AM GMT)

अर्थ नेटवर्क्‍स पश्चिम बंगाल में लेकर आया सीवियर वेदर अलर्टिंग एवं लाइटनिंग डिटेक्‍शन


पश्चिम बंगाल ने लोगों की रक्षा करने और मौसम के आंकड़ों तक पहुंच बढ़ाने के लिए अर्थ नेटवर्क्‍स के अर्ली वार्निंग नेटवर्क को अपनाया


Germantown, Md., United States & Kolkata, West Bengal, India

अर्थ नेटवर्क्‍स ने आज घोषणा की है कि पश्चिम बंगाल राज्‍य ने रियल-टाइम स्‍टॉर्म ट्रैकिंग, लाइ‍टनिंग डिटेक्‍शन और ऐडवांस्‍ड अलर्टिंग सेवायें मुहैया कराने के लिए अर्थ नेटवर्क्‍स का चयन किया है। इसके तहत राज्‍य के लोगों एवं व्‍यावसायों को जीवनरक्षक मौसम एवं भविष्‍यवाणी सेवायें प्रदान की जायेगी।

भारत में अर्थ नेटवर्क्‍स टोटल लाइटनिंग नेटवर्क सुरक्षा एवं आपदा प्रबंधन एजेंसियों की मदद करता है। ताकि जिंदगियां बचाने, चोटें घटाने और संपदा नुकसान न्‍यूनतम करने के लिए आने वाले गंभीर मौसम की लोगों को पहले से चेतावनी मुहैया कराई जाये। पश्चिम बंगाल, पूरे साल खतरनाक मौसम का खतरा रहता है, जैसे कि चक्रवात, भारी बारिश, और तूफान। इसलिए इसने अर्थ नेटवर्क्‍स के व्‍यापक अर्ली वार्निंग सामर्थ्‍य – लाइव स्‍टॉर्म ट्रैकिंग, ऐडवांस्‍ड लाइटनिंग डिटेक्‍शन और डेंजरस थंडरस्‍टॉर्म अलर्ट्स (डीटीए) का लाभ उठाने की पहल की है। और यह आंध्र प्रदेश एवं कर्नाटक सहित अर्थ नेटवर्क्‍स की सेवाओं का लाभ उठाने वाले भारतीय राज्‍यों की सूची में शामिल हो गया है जिनकी संख्‍या लगातार बढ़ रही है।

अर्थ नेटवर्क्‍स के एसवीपी ग्‍लोबल साइट्स ने कहा, “मौसम से संबंधित खतरों के लिए चूकि, भारत की आबादी दुनिया में सबसे संवेदनशील है, इसलिए हमने राज्‍यव्‍यापी आपदा प्रबंधन एजेंसियों व निजी उपक्रमों से संबंध विकसित किये हैं ताकि सर्वश्रेष्‍ठ एवं तकनीकी रूप से सबसे उन्‍नत प्रिसीशन वेदर नेटवर्क को भारत में लाया जा सके। पश्चिम बंगाल के साथ यह साझेदारी वास्‍तविक समय में मौसम की महत्‍वपूर्ण जानकारी और मौसमसे संबंधित गंभीर अलर्टिंग सामर्थ्‍य मुहैया करायेगी जोकि पहले क्षेत्र में संभव नहीं थी।” 

90 से अधिक देशों में परिचालन कर रहा, अर्थ नेटवर्क्‍स टोटल लाइटनिंग नेटवर्क दुनिया में सबसे व्‍यापक लाइटनिंग नेटवर्क है। इन-क्‍लाउड लाइटनिंग पर नजर रखने में इसका सामर्थ्‍य और क्‍लाउड-टु-ग्राउंड लाइटनिंग स्‍थानीय रूप से तेजी से स्‍टॉर्म अलर्ट देने में सक्षम बनाती है, इससे भविष्‍यवाणी करने वाले लोग भारी बारिश,तेज हवाओं और डाउनबर्स्‍ट जैसे गंभीर मौसमों के बारे में चेतावनी दे सकते हैं।

श्री एस. सुरेश कुमार (आइएएस), प्रधान सचिव, आपदा प्रबंधन विभाग एवं लोक रक्षा, पश्चिम बंगाल सरकार ने कहा, “खतरनाक मौसम की परिस्थितियों से हमारे 9 करोड़ लोगों को सुरक्षित रखना एक गंभीर चुनौती है। अर्थ नेटवर्क्‍स के इन-क्‍लाउड लाइटनिंग डिटेक्‍शन की मदद से हम पहले से चेतावनी और अधिक सटीक भविष्‍यवाणियां प्रदान कर सकते हैं जोकि बदले में हर किसी की सुरक्षा को बेहतर बनायेंगी।”

जतिन सिंह, स्‍काईमेट वेदर सर्विेसेज के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी, अर्थ नेटवर्क्‍स के भारतीय साझीदार ने कहा, “सार्वजनिक सुरक्षा में प्रगति के अलावा, इस वास्‍तविक समय में मौसम की जानकारी के लिए व्‍यावहारिक अनुप्रयोग अनंत हैं। लाइटनिंग के लिए अर्ली सीवियर वेदर इंडीकेटर्स के साथ, हमारे पास नये डेटा सेट एवं तकनीकें हैं जोकि विमानन, उर्जा, खनन, बीमा आदि जैसे उद्योगों में एपक्रमों को सहयोग करता है।”
 
यह साझेदारी सरकार और लोक रक्षा एजेंसियों दोनों के लिए बेहतरीन हैं जोकि अर्थ नेटवर्क्‍स के उत्‍पादों तक पहुंच बनाने में सक्षम होंगे और इससे राज्‍य में जिंदगियां बचाने और संपदा के नुकसान को कम करने में मदद मिलेगी जोकि गंभीर मौसम के कारण होती हैं। साथ ही निजी उद्योग के साझीदारों को अपना परिचालन इष्‍टतम करने, रुझानों का विश्‍लेषणकरने और महत्‍वपूर्ण आधारभूत संरचना सुरक्षित रखने के लिए मौसम के आंकड़ों के नये स्रोतों तक पहुंच मिलेगी।
अर्थ नेटवर्क्‍स के बारे में अधिक जानकारी के लिए देखें www.earthnetworks.com

अर्थ नेटवर्क्‍स के विषय में

अर्थ नेटवर्क्‍स 20 से अधिक वर्षों से प्‍लैनेट® की रग-रग को पहचान रहा है। हम संस्‍थानों को दुनिया के सबसे बड़े हाइपरलोकल वेदर नेटवर्क से पर्यावरणीय इंटेलीजेंस मुहैया कराकर वित्‍तीय, परिचालन और मानव जोखिम से बचाने में मदद करते हैं। स्‍कूल, एयरपोर्ट,स्‍पोर्ट्स टीमें, यूटिलिटीज, और सरकारी एजेंसियां हमारे अर्ली वार्निंग समाधानों पर भरोसा करती हैं ताकि जिंदगियों को बचाया जा सके और मौसमी घटनाओं के लिए तैयार हुआ जा सके और परिचालन को ऑप्टिमाईज किया जा सके। सभी उद्योगों की कंपनियां जोखिम प्रबंधन, कारोबारी निरंतरता और संपदा संरक्षण से संबंधित फैसलों को लेने के लिए हमारे मौसम के आंकड़ों का प्रयोग करती हैं।

businesswire.com पर सोर्स विवरण देखें: http://www.businesswire.com/news/home/20180204005030/en/
 
संपर्क  :
अर्थ नेटवर्क्‍स
एन्‍ना पोर्टियस, +1-301-250-4156
aporteus@earthnetworks.com 

घोषणा (अस्वीकरण): इस घोषणा की मूलस्रोत भाषा का यह आधिकारिक, अधिकृत रूपांतर है। अनुवाद सिर्फ सुविधा के लिए मुहैया कराए जाते हैं और उनका स्रोत भाषा के आलेख से संदर्भ लिया जा सकता है और यह आलेख का एकमात्र रूप है जिसका कानूनी प्रभाव हो सकता है।


More News from Earth Networks

13/04/2018 6:40PM

कर्नाटक ने गंभीर मौसम चेतावनी और बिजली की पहचान करने के लिए अर्थ नेटवर्क्‍स का चयन किया

अर्थ नेटवर्क्‍स ने आज घोषणा की है कि कर्नाटक राज्‍य ने लाइव वेदर मॉनीटरिंग, लाइ‍टनिंग डिटेक्‍शन और रियल-टाइम अलर्टिंग लागू करने के लिए अर्थ नेटवर्क्‍स का चयन किया है। इसके तहत राज्‍य ...

11/04/2018 5:20PM

Karnataka Chooses Earth Networks for Severe Weather Early Warning and Lightning Detection

Earth Networks today announced that it was selected by the state of Karnataka to implement live weather monitoring, lightning detection and real-time alerting to power life-saving weather forecasting and alerting ...

06/02/2018 11:07PM

Earth Networks Brings Severe Weather Alerting and Lightning Detection to West Bengal

Earth Networks announced that the state of West Bengal has chosen Earth Networks to provide real-time storm tracking, lightning detection and advanced alerting services to provide life-saving weather and ...

Similar News

23/10/2018 7:26PM Image

Leading FinTech Venture 'EarlySalary' Crosses INR 550 Crore Loan Disbursal

EarlySalary, India’s first mobile application for lending has disbursed INR 550 Crores in loans to over 135,000 customers. The Pune based startup, is now the first line of credit for young professionals in India.

No Image

23/10/2018 7:12PM Image

This Diwali Host Happiness With CuroCarte

This festive season, CuroCarte presents an eclectic collection of artistic legacies that have been passed down for generations.